Best saba balrampuri shayari in hindi with images

Saba Balrampuri Shayari

सबा बलरामपुरी बहुत प्रसिद्ध प्रेम कवियित्री हैं। इन्होंने प्यार-मोहब्बत पर कई ग़ज़लें और गीत लिखें। इनकी मधुर आवाज़ से पूरे मुशायरे में चार चांद लग जाते हैं।

Saba Balrampuri Shayari और ग़ज़लें हम आपके लिए लाए हैं जिससे आप Saba balrampuri shayari in hindi का मज़ा ले सकें।

 

दौलत के जो नशे में – Saba balrampuri shayari

saba-balrampuri-shayari
saba-balrampuri-shayari
Doulat Ke Jo Nashe Me Yahan Choor Ho Gaye, Woh Log Manzilon Se Bahut Door Ho Gaye.
Duniya Hamare Naam Ko Pehchanti Nahi, Hum To Tumhare Naam Se Mashoor Ho Gaye.

Yeh Kya Hua Ke Shaher Ka Manzar Badal Gaya, Jitne Bhi The Charaag Woh Benoor Ho Gaye.

Kal Shaam Teri Yaad Ki Aisi Hawa Chali, Jitne Bhi Gam Kareeb The Sab Door Ho Gaye.

Din Raat Hum Kisi Ke Tasawwur Me Khoye Hain, Duniya Samajh Rahi Hai Ke Magroor Ho Gaye.!!!

Mushkil Bahut Tha Yun To Bagawat Ka Faisla, Lekin Tumhare Pyar Me Majboor Ho Gaye.

Lo Aaj Jung Humne Mohabbat Ki Jeet Li, Hum Unko Aur Woh Humein Manzoor Ho Gaye.

मंज़िलों से दूर हो गए – सबा बलरामपुरी शायरी‌ इन हिन्दी

दौलत के जो नशे में यहां चूर हो गए, वो लोग मंज़िलों से बहुत दूर हो गए।

दुनिया हमारे नाम को पहचानती नहीं, हम तो तुम्हारे नाम से मशहूर हो गए।

ये क्या हुआ कि शहर का मंज़र बदल गया, जितने भी थे चराग वो बेनूर हो गए।

कल शाम तेरी याद की ऐसी हवा चली, जितने भी ग़म करीब थे सब दूर हो गए।

दिन रात हम किसी के तसव्वुर में खोये हैं, दुनिया समझ रही है कि मगरूर हो गए।

मुश्किल बहुत था यूं तो बगावत का फैसला, लेकिन तुम्हारे प्यार में मजबूर हो गए।

लो आज जंग हमने मोहब्बत की जीत ली, हम उनको और वो हमें मंजूर हो गए।

जो फूल तुमने भेजे थे – Saba balrampuri Mushaira

saba-balrampuri-mushaira
saba-balrampuri-mushaira
Jo Phool Tumne Bheje The Khat Ke Jawab Me, Ab Bhi Mahek Rahe Hain Hamari Kitab Me.

Aye Chand Apne Husn Pe Itna Na Naaz Kar, Ek Chand Aur Bhi Hai Mere Intikhab Me.

Shayed Mohabbaton Ki Shuruwat Ho Gayi, Kal Raat Maine Dekha Tha Aapko Khwab Me.

Nazren Mila Ke Mujhse Mujhe Bewafa Kahe, Itna Bhi Housla Nahi Aali Janab Me.

जो फूल तुमने भेजे थे खत के जवाब में, अब भी महक रहे हैं हमारी किताब में।

ऐ चांद अपने हुस्न पे इतना ना नाज़ कर, एक चांद और भी है मेरे इंतखाब में।

शायद मोहब्बतों की शुरुआत हो गई, कल रात मैंने देखा था आपको ख़्वाब में।

नज़रें मिला के मुझसे मुझे बेवफा कहे, इतना भी हौसला नहीं आली जनाब में।

तू अगर मेहरबान हो जाए – Saba balrampuri shayari in hindi

saba-balrampuri-shayari-in-hindi
saba-balrampuri-shayari-in-hindi
Tu Agar Meharban Ho Jaye, Yeh Zameen Aasman Ho Jaye, Main Tera Naam Leke Marr Jaun, Mukhtasar Dastan Ho Jaye.

Teri Tasveer Kya Lagayi Thi, Ghar Ke Deewaron Dar Mehakte Hain, Tujhse Milkar Mujhe Hua Mehsoos, Pattharon Ke Bhi Dil Dhadakte Hain.

Neend Aati Hai Jab Bhi Raton Mein, Doob Jati Hun Tere Khwabon Mein, Teri Tasveer Kya Rakhi Maine, Khushboo Aane Lagi Kitabon Mein.

 

तू अगर मेहरबान हो जाए, ये जमीन आसमान हो जाए, मैं तेरा नाम लेके मर जाऊं, मुख्तसर दास्तान हो जाए।

तेरी तस्वीर क्या लगायी थी, घर के दीवारों दर महकते हैं, तुझसे मिल कर मुझे हुआ महसूस, पत्थरों के भी दिल धड़कते हैं।

नींद आती है जब भी रातों में, डूब जाती हूं तेरे ख्वाबों में, तेरी तस्वीर क्या रखी मैंने, खुश्बू आने लगी किताबों में।

Teri Dhadkan Hun – Saba Balrampuri Song in Hindi

saba-balrampuri-song-in-hindi
saba-balrampuri-song-in-hindi
Teri Dhadkan Hun, Tere Pyar Ka Andaz Hu Main, Teri Hamraaz Hun Main, Teri Humraaz Hun Main.

Tu Mere Naam Koi Shok Suhani Likh De, Dil Ke Kagaz Pe Mohabbat Ki Kahani Likh De, Zindagani Ke Naye Mod Ka Aagaz Hun Main, Teri Humraaz Hun Main, Teri Humraaz Hun Main.

Ab Koi Aur Bahana Na Banane Dungi, Tujhko Apne Se Kabhi Dur Na Jane Dungi, Tu Jise Sunn Ke Palat Aaye Woh Aawaz Hun Main, Teri Humraaz Hun Main, Teri Humraaz Hun Main.

Meri Khwaish, Mera Jazba, Mera Armaan Hai Tu, Teri Dhadkan Hun, Tere Pyar Ka Andaz Hun Main, Teri Humraaz Hun Main, Teri Humraaz Hun Main.

Meri Khwaish, Mera Jazba, Mera Armaan Hai Tu, Main Adhuri Hun Tere Bin, Meri Pehchan Hai Tu, Tu Mera Shahjahan Hai Teri Mumtaz Hun Main, Teri Humraaz Hun Main, Teri Humraaz Hun Main.

तेरी हमराज़ हूं मैं – सबा बलरामपुरी गीत

तेरी धड़कन हूं,‌ तेरे प्यार का अंदाज़ हूं मैं, तेरी हमराज़ हूं मैं, तेरी हमराज़ हूं मैं।

तू मेरे नाम कोई शौक़ सुहानी लिख दे, दिल के कागज़ पे मोहब्बत की कहानी लिख दे, ज़िंदगानी के नये मोड़ का आगाज़ हूं मैं, तेरी हमराज़ हूं मैं, तेरी हमराज़ हूं मैं।

अब कोई और बहाना ना बनाने दूंगी, तुझको अपने से कभी दूर ना जाने दूंगी, तू जिसे सुन के पलट आये वो आवाज़ हूं मैं, तेरी हमराज़ हूं मैं, तेरी हमराज़ हूं मैं।

मेरी ख्वाहिश, मेरा जज़्बा, मेरा अरमान है तू, तेरी धड़कन हूं तेरे प्यार का अंदाज़ हूं मैं, तेरी हमराज़ हूं मैं, तेरी हमराज़ हूं मैं।

मेरी ख्वाहिश, मेरा जज़्बा, मेरा अरमान है तू, मैं अधूरी हूं तेरे बिन, मेरी पहचान है तू, तू मेरा शाहजहां तेरी मुमताज़ हूं मैं, तेरी हमराज़ हूं मैं, तेरी हमराज़ हूं मैं।

पुर अमन जिंदगी की हिमायत – Saba balrampuri ka mushaira sunaiye

saba-balrampuri-ka-mushaira-sunaiye
saba-balrampuri-ka-mushaira-sunaiye
Pur Aman Zindagi Ki Himayat Kiya Karo, Nafrat Buri Bala Hai Mohabbat Kiya Karo.

Ek Baat Aaj Tumko Batati Hun Kaam Ki, Izzat Jo Chahte Ho To Izzat Kiya Karo.

पुर अमन जिंदगी की हिमायत किया करो, नफ़रत बुरी बला है मोहब्बत किया करो।

इक बात आज तुमको बताती हूं काम की, इज़्ज़त जो चाहते हो तो इज़्ज़त किया करो।

जोश है यूसुफ़ के खरीदारों में – Saba balrampuri mushaira 2022

Ek Halchal Hai Machi Misr Ke Zardaron Mein, Kis Qadar Josh Hai Yusuf Ke Kharidaron Mein.

Aaj Phir Akbar-E-Aazam Ko Jalal Aaya Hai, Phir Koi Husn Chuna Jayega Deewaron Mein.

Meri Dehleej Pe Phir Unke Qadam Aaye Hain, Kal Koi Taaza Khabar Aayegi Akhbaron Mein.

Jo Bhi Padhta Hai Woh Ho Jata Hai Deewana Tera, Jane Kya Baat Hai Quran Tere Paron Mein.

Jo Hai Gaddar Woh Masoom Bane Baithe Hain, Aur Masoom Gine Jate Hain Gaddaron Mein.

Kitne Ish Dour Mein Do Waqt Ki Roti Ke Liye, Roz Bikte Hain Saba Aaj Bhi Bazaron Mein.

saba-balrampuri-mushaira-2022
saba-balrampuri-mushaira-2022

एक हलचल मची है मिस्र के जरदारों में, किस क़दर जोश है यूसुफ़ के खरीदारों में।

आज फिर अकबर-ए-आज़म को जलाल आया है, फिर कोई हुस्न चुना जायेगा दीवारों में।

मेरी दहलीज पर फिर उनके कदम आये हैं, कल कोई ताज़ा खबर आयेगी अखबारों में।

जो भी पढ़ता है वो हो जाता है दीवाना तेरा, जाने क्या बात है कुरान तेरे पारों में।

जो हैं गद्दार वो मासूम बने बैठे हैं, और मासूम गिने जाते हैं गद्दारों में।

कितने इस दौर में दो वक्त की रोटी के लिए, रोज बिकते हैं सबा आज भी बाज़ारों में।

Hum Bhi Nakaam Hain – Saba balrampuri 2022

Subho Tum Hi Meri Aur Tum Hi Shaam Ho, Tum Hi Aagaz Ho Tum Hi Anjam Ho.

Bhool Jane Ki Koshish To Dono Ne Ki, Hum Bhi Nakaam Hain Tum Bhi Nakaam Ho.

Mujhko Koi Takhallush Gawara Nahi, Naam Ke Sath Me Mere Tera Naam Ho.

Ab Mujhe Chahe Jis Simt Me Dhaal Lo, Tum Hi Ghalib Mere Tum Hi Khayyam Ho.

Shayari Mein Siyasat Na Aaye Saba, Pyar Hi Pyar Bas Tera Paigham Ho.

सुब्हो तुम ही मेरी – Saba balrampuri wah wah kya baat hai

saba-balrampuri-wah-wah-kya-baat-hai
saba-balrampuri-wah-wah-kya-baat-hai

 

सुब्हो तुम ही मेरी और तुम ही शाम हो, तुम ही आगाज़ हो तुम ही अंजाम हो।

भूल जाने की कोशिश तो दोनों ने की, हम भी नाकाम हैं तुम भी नाकाम हो।

मुझको कोई तखल्लुस गवारा नहीं, नाम के साथ में मेरे तेरा नाम हो।

अब मुझे चाहे जिस सिम्त में ढाल लो, तुम ही ग़ालिब मेरे तुम ही खय्याम हो।

शायरी में सियासत ना आये सबा, प्यार ही प्यार बस तेरा पैगाम हो।

तलाश करती रहीं मगर नहीं आया – Saba balrampuri ki gazal

saba-balrampuri-ki-gazal
saba-balrampuri-ki-gazal
Talash Karti Rahi Main Magar Nahi Aaya, Koi Bhi Tujhsa Jahan Mein Nazar Nahi Aaya.

Zaroor Koi Na Koi Kami Rahi Hogi, Isiliye To Duwa Mein Asar Nahi Aaya.

Main Sochti Thi Ke Ho Jaun Uske Jaisi Magar, Yeh Bewafai Ka Mujhko Hunar Nahi Aaya.

Khuda Ke Baad Mere Humsafar Siwa Tere, Koi Bhi Yaad Mujhe Ish Qadar Nahi Aaya.

Zami Pe Yun To Farishte Bhi Aaye Hain Lekin, Nabi Ke Jaise Koi Bhi Bashar Nahi Aaya.

बेवफाई का हुनर नहीं आया – Saba balrampuri shayari status

तलाश करती रहीं मगर नहीं आया, कोई भी तुझसा जहां में नज़र नहीं आया।

ज़रूर कोई ना कोई कमी रही होगी, इसीलिए तो दुआ में असर नहीं आया।

मैं सोचती थी कि हो जाऊं उसकी जैसी मगर, ये बेवफाई का मुझको हुनर नहीं आया।

खुदा के बाद मेरे हमसफ़र सिवा तेरे, कोई भी याद मुझे इस कदर नहीं आया।

ज़मीं पे यूं तो फ़रिश्ते भी आये हैं लेकिन, नबी के जैसा कोई भी बशर नहीं आया।

रंग लायी दुआ मोज्ज़िज़ा हो गया – Saba balrampuri shayari lyrics

saba-balrampuri-shayari-lyrics
saba-balrampuri-shayari-lyrics

 

Rang Layi Duwa Mojiza Ho Gaya, Jo Nahi Tha Mera Woh Mera Ho Gaya.

Sath Jeena Hai Aur Sath Marna Hai Ab, Faisla Kar Liya Faisla Ho Gaya.

Aisa Lagta Hai Tumko Nazar Lag Gayi, Tum To Aise Na The Tumko Kya Ho Gaya.

Ish Qadar Mat Sata Laout Aa Laout Aa, Phir Na Kehna Koi Bewafa Ho Gaya.

Ab Tujhe Dekh Kar Hi Sanwarti Hun Main, Tera Chehra Mera Aaina Ho Gaya.

Bus Yahi Soch Kar Jaan De Dungi Main, Teri Chahat Ka Karza Ada Ho Gaya.

Meri Aankhon Mein Sota Raha Devta, Mann Ke Mandir Mein Phir Ratjaga Ho Gaya.

Ishq Ke Sab Masiha Pareshan Hai, Yeh Marz To Saba Ladawa Ho Gaya.

फैसला हो गया – Saba balrampuri shayari 2 line

रंग लायी दुआ मोज्ज़िज़ा हो गया, जो नहीं था मेरा वो मेरा हो गया।

साथ जीना है और साथ मरना है अब, फैसला कर लिया फैसला हो गया।

ऐसा लगता है तुमको नज़र लग गई, तुम तो ऐसे ना थे तुमको क्या हो गया।

इस कदर मत सता लौट आ, लौट आ, फिर ना कहना कोई बेवफा हो गया।

अब तुझे देख कर ही संवरती हूं मैं, तेरा चेहरा मेरा आईना हो गया।

बस यही सोच कर जान दे दूंगी मैं, तेरी चाहत का कर्ज़ा अदा हो गया।

मेरी आंखों में सोता रहा देवता, मन‌ के मंदिर में फिर रतजगा हो गया।

इश्क़ के सब मसीहा परेशान हैं, ये मर्ज़ तो सबा ला दवा हो गया।

तेरी नज़र ने जुलेखा बना दिया – Saba balrampuri ki shayari

saba-balrampuri-ki-shayari
saba-balrampuri-ki-shayari

 

Kya Thi Main Tere Pyar Ne Aur Kya Bana Diya, Teri Bus Ek Nazar Ne Zulaikha Bana Diya.

Takra Ke Usse Meri Kitaben Jo Gir Gayi, College Ki Ladkiyon Ne Tamasha Bana Diya.

Sheeshe Pe Mere Aake Agar Gard Jam Gayi, Ungli Ne Meri Aapka Chehra Bana Diya.

तेरे प्यार ने क्या बना दिया – Saba balrampuri shero shayari

क्या थी मैं और तेरे प्यार ने क्या बना दिया, तेरी बस एक नज़र ने ज़ुलेखा बना दिया।

टकरा के उससे मेरी किताबें जो गिर गईं, कॉलेज की लड़कियों ने तमाशा बना दिया।

शीशे पे मेरे आके अगर गर्द जम गई, उंगली ने मेरी आपका चेहरा बना दिया।

1 thought on “Best saba balrampuri shayari in hindi with images”

  1. Pingback: Top 50 Munawwar Rana Shayari in Hindi | Munawwar Rana Maa Shayari | Munawwar Rana Poetry – Poetryrush

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Punjabi Love Shayari in Hindi for Couples | Punabi Shayari Top 10 Munawwar Rana Shayari on Maa in Hindi Baat nahi karne ki shayari in hindi for girlfriend 15 AUGUST SHAYARI IN HINDI | INDEPENDENCE DAY STATUS Bakra Eid Mubarak Shayari in Hindi 2022 | Eid Al Adha Wishes