Rahat Indori Shayari in Hindi with Images Download

Rahat Indori Shayari in Hindi with Images Download

Rahat Indori Shayari – डाॅ० राहत इंदौरी उर्दू तहज़ीब के ऐसे दरख़्त हैं जिसकी छाया में कई शायर और कवि बैठे हैं, जिन्होंने उस दरख़्त की छाया महसूस की है। लंबे अरसे से श्रोताओं के दिल पर राज करने वाले राहत साहब की शायरी में हिंदुस्तानी तहज़ीब का नारा बुलंद है। वे कहते हैं कि अगर मेरा शहर जल रहा है और मैं कोई रोमांटिक ग़ज़ल गा रहा हूं तो अपने फ़न, देश, वक़्त सभी से दगा कर रहा हूं। बीते साल कोरोना महामारी ने इस दरख़्त की छांव को अदब से छीन लिया था।

"<yoastmark

राहत साहब का जन्म 1 जनवरी 1950 को इंदौर में मरहूम रिफ़तुल्लाह क़ुरैशी एवं मक़बूल बेगम के घर चौथी संतान के रूप में हुआ। राहत साहब ने आरंभिक शिक्षा देवास और इंदौर के नूतन स्कूल से प्राप्त करने के बाद इंदौर विश्वविद्यालय से उर्दू में एम.ए. और ‘उर्दू मुशायरा’ शीर्षक से पीएच.डी. की डिग्री हासिल की। उसके बाद 16 वर्षों तक इंदौर विश्वविदायालय में उर्दू साहित्य के अध्यापक के तौर पर अपनी सेवाएं दी और त्रैमासिक पत्रिका ‘शाखें’ का 10 वर्षों तक संपादन किया। पिछले 40-45 वर्षों से राहत साहब राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर मुशायरों की शान बने हुए थे। प्रस्तुत हैं राहत इंदौरी की ग़ज़लों से चुनिंदा शेर-

Rahat Indori shayari in hindi

गुलाब, ख़्वाब, दवा, ज़हर, जाम क्या क्या है?
मैं आ गया हूं, बता इंतजाम क्या क्या है।

"<yoastmark

Gulaab, Khwaab, Dawa, Zaher, Jaam Kya Kya Hai?
Main Aa Gaya Hun, Bata Intezam Kya Kya Hai.

Rahat indori shayari

आग के पास कभी मोम को लाकर देखूं,
हो इजाज़त तो तुझे हाथ लगा कर देखूं।

"<yoastmark

Aag Ke Pas Kabhi Mom Ko Lakar Dekhun,
Ho Ijazat To Tujhe Hath Laga Kar Dekhun.

Rahat indori shayri

तूफानों से आंख मिलाओ, सैलाबों पर वार करो,
मल्लाहों का चक्कर छोड़ो, तैर के दरिया पार करो।

rahat indori shayri image
rahat indori shayri image

Toofano Se Aankh Milao, Sailabon Par Waar Karo,
Mallahon Ka Chakkar Chhodo, Tair Ke Dariya Paar Karo.

Rahat indori Sher

फूलों की दुकानें खोलो, खुश्बू का व्यापार करो,
इश्क़! खता है तो
ये खता एक बार नहीं सौ बार करो।

rahat indori sher photos
rahat indori sher photos

Phoolon Ki Dukane Kholo, Khushboo Ka Vyapar Karo,
Ishq! Khata Hai To
Yeh Khata Ek Baar Nahi Sau Baar Karo.

Rahat Indori best shayari

किसने दस्तक दी ये दिल पर, कौन है?
आप तो अंदर हैं, बाहर कौन है।

"<yoastmark

Kisne Dastak Di Yeh Dil Par, Koun Hai?
Aap To Andar Hain, Bahar Koun Hai.

Rahat Indori poetry

राज़ जो कुछ हो इशारों में बता भी देना,
हाथ जब उनसे मिलाना तो दबा भी देना।

rahat indori poetry
rahat indori poetry

Raaz Jo Kuch Ho Isharon Mein Bata Bhi Dena,
Hath Jab Unse Milana To Daba Bhi Dena.

Rahat Indori ki shayari

झूठों ने झूठों से कहा है सच बोलो
सरकारी ऐलान हुआ है सच बोलो,
घर के अन्दर झूठों की एक मंण्डी है
दरवाजे पर लिखा हुआ है सच बोलो।

"<yoastmark

Jhoothon Ne Jhoothon Se Kaha Hai Sach Bolo
Sarkari Elaan Hua Hai Sach Bolo,
Ghar Ke Andar Jhoothon Ki Ek Mandi Hai
Darwaze Par Likha Hua Hai Sach Bolo.

Rahat indori quotes

मैं जब मर जाऊं तो मेरी अलग पहचान लिख देना,
लहू से मेरी पेशानी पे हिन्दुस्तान लिख देना।

rahat indori quotes
rahat indori quotes

Main Jab Marr Jaun To Meri Alag Pehchan Likh Dena,
Lahoo Se Meri Peshani Pe Hindustan Likh Dena.

Shayari rahat indori

सभी का खून है शामिल यहां की मिट्टी में,
किसी के बाप का हिन्दुस्तान थोड़ी है।

"<yoastmark

Sabhi Ka Khoon Hai Shamil Yahan Ki Mitti Mein,
Kisi Ke Baap Ka Hindustan Thodi Hai.

Dr Rahat Indori shayari

मैंने अपनी खुश्क़ आंखों से लहू छलका दिया,
इक समंदर कह रहा था मुझको पानी चाहिए।

"dr

Maine Apni Khushk Aankhon Se Lahoo Chalka Diya,
Ik Samandar Keh Raha Tha Mujhko Pani Chahiye.

Rahat Indori Love shayari

आते जाते हैं कई रंग मेरे चेहरे पर,
लोग लेते हैं मज़ा ज़िक़्र तुम्हारा करके।

"<yoastmark

Aate Jate Hain Kayi Rang Mere Chehre Par,
Log Lete Hain Maza Zikr Tumhara Kar Ke.

Rahat Indori famous shayari

एक चिंगारी नज़र आई थी बस्ती में उसे,
वो अलग हट गया आँधी को इशारा कर के।

"<yoastmark

Ek Chingari Nazar Aayi Thi Basti Mein Use,
Woh Alag Hat Gaya Aandhi Ko Ishara Kar Ke.

Rahat Indori Sad shayari 2 line

जुबां तो खोल, नज़र तो मिला, ज़वाब तो दे
मैं कितनी बार लुटा हूँ, हिसाब तो दे।

"<yoastmark

Juban To Khol, Nazar To Mila, Jawab To De
Main Kitni Baar Luta Hoon, Hisaab To De.

Shayari of Rahat Indori

किसने दस्तक दी दिल पे, ये कौन है?
आप तो अन्दर हैं, बाहर कौन है?

"<yoastmark

Kisne Dastak Di Dil Pe, Yeh Kaun Hai?
Aap To Andar Hain, Bahar Kaun Hai?

Rahat Indori shayari in Urdu

फैसला जो कुछ भी हो हमें मंज़ूर होना चाहिए
जंग हो या इश्क़ हो भरपूर होना चाहिए,
भूलना भी है जरुरी याद रखने के लिए
पास रहना है तो थोड़ा दूर होना चाहिए।

"<yoastmark

Faisla Jo Kuch Bhi Ho, Humein Manzoor Hona Chahiye
Jang Ho Ya Ishq Ho, Bharpoor Hona Chahiye,
Bhoolna Bhi Hai Jaroori Yaad Rakhne Ke Liye
Pas Rehna Hai To Thoda Dur Hona Chahiye.

فیصلہ جو کچھ بھی ہو ہمیں منظور ہونا چاہیے،
جنگ ہو یا عشق ہو بھرپور ہونا چاہیے،
بھولنا بھی ہے ضروری یاد رکھنے کے لیے،
پاس رہنا ہے تو تھوڑا دور ہونا چاہیے۔

Rahat Indori shayari hindi

अब ना मैं हूँ, ना बाकी हैं ज़माने मेरे
फिर भी मशहूर हैं शहरों में फ़साने मेरे,
ज़िन्दगी है तो नए ज़ख्म भी लग जाएंगे
अब भी बाकी हैं कई दोस्त पुराने मेरे।

rahat indori shayari hindi image
rahat indori hindi shayari image

Ab Na Main Hun, Na Baki Hai Zamane Mere,
Phir Bhi Mashoor Hain Shaharon Mein Fasane Mere,
Zindagi Hai Toh Naye Zakhm Bhi Lag Jayenge,
Ab Bhi Baki Hain Kayi Dost Purane Mere.

Rahat Indori Ghazal

तेरी हर बात मोहब्बत में गँवारा करके
दिल के बाज़ार में बैठे हैं खसारा करके ,
मैं वो दरिया हूँ कि हर बूंद भंवर है जिसकी ,
तुमने अच्छा ही किया मुझसे किनारा करके।

rahat indori ghazal images
rahat indori ghazal images

Teri Har Baat Mohabbat Mein Gawara Karke,
Dil Ke Bazaar Mein Baithe Hain Khasara Karke,
Main Woh Dariya Hun Ke Har Boond Bhanwar Hai Jiski,
Tumne Achha Hi Kiya Hai Mujhse Kinara Karke.

Rahat Indori Motivational shayari

आँखों में पानी रखो होंठों पे चिंगारी रखो,
ज़िंदा रहना है तो तरकीबें बहुत सारी रखो,
एक ही नदी के हैं ये दो किनारे दोस्तों,
दोस्ताना ज़िंदगी से, मौत से यारी रखो।

"<yoastmark

Aankhon Mein Pani Rakho Hontho Pe Chingari Rakho,
Zinda Rahna Hai Toh Tarkibein Bahut Sari Rakho,
Ek Hi Nadi Ke Hain Yeh Do Kinare Doston,
Dostana Zindagi Se, Maut Se Yaari Rakho.

Rahat Indori shayari lyrics

अजनबी ख़्वाहिशें सीने में दबा भी न सकूँ
ऐसे ज़िद्दी हैं परिंदे कि उड़ा भी न सकूँ,
फूँक डालूँगा किसी रोज़ मैं दिल की दुनिया,
ये तेरा ख़त तो नहीं है कि जला भी न सकूँ।

rahat indori shayari lyrics images
rahat indori lyrics images

Ajnabi Khwahishein Seene Mein Daba Bhi Na Sakun,
Aise Ziddi Hain Parinde Ke Uda Bhi Na Sakun,
Foonk Dalunga Kisi Roz Main Dil Ki Duniya,
Yeh Tera Khat To Nahi Ke Jala Bhi Na Sakun.

4 thoughts on “Rahat Indori Shayari in Hindi with Images Download”

  1. Pingback: 15 August Status in Hindi | Happy Independence day Shayari – Poetryrush

  2. Pingback: Munawwar Rana Shayari | 50+ Munawwar Rana Shayari in Hindi

  3. Pingback: Punjabi Shayari in Hindi | Punjabi love shayari – Poetryrush

  4. Pingback: 1000+ Attitude dp for boys and girl | new stylish dp

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *